Translate

सोमवार, 7 दिसंबर 2015

संस्कृतभाषा पत्रकारिता सम्मेलन डिसें २०१५

"संस्कृत-पत्रकारिता का इतिहासः"- cec-ugc के लिए प्रसारित दो , प्राथमिक व्याख्यानों के "यूट्यूब" लिंक
भारतीय स्वतन्त्रता - प्राप्ति में पत्रकारिता की क्या भूमिका रही है ? हमें विश्वास हैं आप इस तथ्य से सुपरिचित हैं | उस समय की हिन्दी, अंग्रेजी, बंगला और भारत की अन्य क्षेत्रीय भाषाओं की पत्रकारिता के समान ही संस्कृत-पत्रकारिता की भूमिका भी कमतर नहीं रही है | आज, जब संस्कृत की प्रासंगिकता दिनों-दिन अधिक से अधिक मेहसूस की जा रही है, तब, इसी पक्ष को उजागर करने के लिए कुछ दिनों पहले भारतीय संस्कृत पत्रकार संघ के महासचिव डॉ.बलदेवानंद सागर के द्वारा cec-ugc के लिए प्रसारित दो , प्राथमिक व्याख्यानों के "यूट्यूब" लिंक, आपके अवलोकनार्थ प्रस्तुत है | 



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------

कोई टिप्पणी नहीं: